निफ्टी की दशा-दिशा [शुक्रवार 17 अगस्त 2018] शुरुआती रुख⬆ सुबह: 8.05 बजे

मंगल का बंद कल का उच्चतम कल का न्यूनतम कल का बंद संभावित दायरा
11435.10 11449.85 11366.25 11385.05 11355/11445

 

अनिल रघुराज

मन हो शांत, गणना यथार्थ आधारित

 Posted by at 08:22  Comments Off on मन हो शांत, गणना यथार्थ आधारित
Aug 172018
 

ट्रेडिंग में आपकी पूंजी लगी होती है, सारा जोखिम आप उठाते हो। इसलिए अंतिम फैसला भी शांत मन से पूरी व्यावहारिक व यथार्थपरक गणना के बाद आपका ही होना चाहिए। शांत मन और यथार्थपरक गणना की क्षमता हासिल करने में विपश्यना काफी मददगार हो सकती है। वह असल में बाहर से कुछ नहीं करती, बल्कि […]

बाहरी प्रभावों से मुक्ति मिले धीरे-धीरे

 Posted by at 08:16  Comments Off on बाहरी प्रभावों से मुक्ति मिले धीरे-धीरे
Aug 162018
 

विपश्यना साधना और उसका नियमित अभ्यास आपको न केवल अवचेतन में जड़ जमा चुकी निरर्थक धारणाओं से मुक्त करता है, बल्कि वह तमाम बाहरी प्रभावों के झांसे से भी निकालता है। लेकिन यह धीरे-धीरे होता है, अचानक किसी चमत्कार की तरह नहीं। रोजमर्रा के जीवन के साथ ही वित्तीय बाज़ार की ट्रेडिंग में भी इसका […]

कोई भागमभाग नहीं, शांति से कमाई

 Posted by at 08:18  Comments Off on कोई भागमभाग नहीं, शांति से कमाई
Aug 142018
 

नहीं पता कि शेयर बाज़ार में सक्रिय कितने लोगों ने विपश्यना साधना अपनाई है। लेकिन एनाम ग्रुप के चेयरमैन वल्लभ भंसाली का नाम इस बाबत काफी चर्चित है। वे 1989 से विपश्यना कर रहे हैं। भारतीय शेयर बाज़ार के बेहद शांत व सफल कारोबारियों में शुमार हैं। अगर किसी को भागमभाग में फंसे बगैर पूरी […]

ट्रेडिंग में बड़े काम आती है विपश्यना

 Posted by at 08:22  Comments Off on ट्रेडिंग में बड़े काम आती है विपश्यना
Aug 132018
 

चेतन व अवचेतन मन के बीच की लौह दीवार को भेदने की बड़ी व्यावहारिक विद्या गौतम बुद्ध ने वैदिक शिक्षाओं को मथने के बाद गहन आत्मसाधना से खोजकर निकाली थी। इस विपश्यना साधना ने तब आम से लेकर खास, सभी लोगों का भला किया। लेकिन करीब 2500 साल पहले पुरोहितों ने इसे गायब कर दिया। […]

चक्र उद्योग-धंधों और कंपनियों का

 Posted by at 09:28  Comments Off on चक्र उद्योग-धंधों और कंपनियों का
Aug 122018
 
चक्र उद्योग-धंधों और कंपनियों का

राजनीति सेवाभाव से करो तो उसमें त्याग ही त्याग है। लेकिन स्वार्थ के लिए करो तो आज हमारे देश का सबसे शानदार धंधा है। इतना जबरदस्त रिटर्न किसी बिजनेस में भी नहीं। फिर भी राजनीति को पांच साल के चक्र से गुजरता पड़ता है। इसी तरह कपास, सीमेंट, स्टील, तांबा व क्रूड ऑयल जैसे हर […]