निफ्टी की दशा-दिशा [बुधवार, 24 अप्रैल 2019] शुरुआती रुख⬇ सुबह: 8.10 बजे

पिछला बंद कल का उच्चतम कल का न्यूनतम कल का बंद संभावित दायरा
11594.45 11645.95 11564.80 11575.95 11545/11635

 

ऊँ महालक्ष्मये च विदमहे विष्णु…

Nov 052010
 

मंत्रों की शक्ति मैं नहीं जानता। आवाहन नहीं जानता। वंदना भी नहीं जानता। लेकिन बताते हैं कि दीपावली के अवसर पर माता लक्ष्मी की विशिष्ट कृपा पाने के लिए इस मंत्र का जाप करते हैं तो आप सबकी तरफ से हम भी कहते हैं, ऊँ महालक्ष्मये च विदमहे विष्णु पत्न्ये च धीमहि तन्नो लक्ष्मिः प्रचोदयात्। ऊँ शांतिः शांतिः शांतिः।” मैं तो मां लक्ष्मी से यही मांगता हूं कि वे अर्थकाम की टीम को इतना सक्षम व समर्थ बना दें ताकि हम आपको वित्तीय जगत की ऐसी निष्पक्ष जानकारियां दे सकें, जिससे आप अपना घर धन-धान्य से भर सकें। आज के दौर में सरस्वती की कृपा ही मां लक्ष्मी तक पहुंचने का सहारा बनती है। कहते हैं कि ज्ञान ही पूंजी है। हम इसी ज्ञान की साधना में लगे हैं ताकि उसका सहारा पाकर आपका धन भी आपकी तरह मेहनत व समझदारी से कमाई कर सके।

आज शेयर बाजार में मुहूर्त ट्रेडिंग शाम को छह से सात बजे तक होगी। यह नए साल की शुरुआत है। पूरी उम्मीद है कि बीएसई सेंसेक्स 21,000 अंक से ऊपर खुलेगा और अगले हफ्ते नया शिखर बना सकता है। बाजार ने इस तेजी का संकेत कल ही दे दिया है। दीपावली के शुभ अवसर पर शायद ऑपरेटर भी बाजार को गिराने से बाज़ आएं। दीपावली पर परंपरा रही है कि हर कोई अपने काम का आगाज करता है। यहां तक चोर भी इस रात अपना हुनर जगाते हैं तो निवेशक को भी निवेश का शगुन जरूर कर देना चाहिए।

बाजार के जानकारों ने मुझे आज के लिए एक नाम सुझाया है – पीबीए इंफ्रास्ट्रक्चर (बीएसई कोड – 532676, एनएसई कोड – PBAINFRA) का। रामलाल वाधवा इसके प्रवर्तक व चेयरमैन हैं। 1974 में बनी कंपनी है। पहले इसका नाम प्रकाश बिल्डिंग एसोसिएट्स था। सिविल इंजीनियरिंग प्रोजेक्ट्स से लेकर राजमार्गों व बांधों वगैरह के निर्माण का काम करती है। कंपनी ने 2009-10 में 376.25 करोड़ रुपए की आय पर 14.10 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ कमाया था। जून 2010 की तिमाही में उसकी आय 80.84 करोड़ रुपए और शुद्ध लाभ 3.26 करोड़ रुपए रहा है। पिछले बारह महीनों (टीटीएम) का उसका ईपीएस 8.32 रुपए है और बीएसई में कल के बंद भाव 82.30 रुपए पर उसका पी/ई अनुपात 9.89 निकलता है। शेयर की बुक वैल्यू 76.29 रुपए है। इस लिहाज से यह शेयर दूरगामी निवेश के लिए सुरक्षित है। वैसे, जानकार बताते हैं कि यह आज इंट्रा-डे में भी लाभ दे सकता है क्योंकि इसके 85 रुपए तक जाने की संभावना है।

हमारी सहयोगी कंपनी सीएनआई रिसर्च ने आज के लिए तीन खास स्टॉक्स का नाम सुझाया है। इसमें से पहला है सेंचुरी टेक्सटाइल्स। इसके पास मुंबई के वरली जैसे पॉश इलाके में 64 एकड़ जमीन है जिसका जोड़ गणना इसके मौजूदा बाजार भाव में नहीं किया गयी है। कंपनी का मुख्य धंधा अभी सीमेंट का है और सीमेंट के दाम पिछले दो हफ्ते में बढ़े हैं। इसका ईपीएस 32.07 रुपए है और शेयर 16.52 के पी/ई अनुपात पर ट्रेड हो रहा है जबकि सेंसेक्स में शामिल दूसरी तमाम कंपनियों के शेयर 30 से 40 के पी/ई अनुपात पर चल रहे हैं। अभी सेंचुरी का शेयर 530 रुपए के आसपास है। इसमें पहला लक्ष्य 650 रुपए का है।

दूसरा संभावनामय स्टॉक है एचडीआईएल का। इस शेयर की बुक वैल्यू 210.69 रुपए है, जबकि बीएसई में कल का उसका बंद भाव 258.25 रुपए है यानी बुक वैल्यू से मात्र 1.22 गुना। इसका ईपीएस 17.57 रुपए है और यह 14.70 के पी/ई अनुपात पर ट्रेड हो रहा है। इंफ्रास्ट्रक्चर क्षेत्र की कंपनी है। इसमें तात्कालिक लक्ष्य 209 से 307 रुपए का है। एक बार यह 320 रुपए के ऊपर पहुंच गया तो काफी तेजी से छलांग लगा सकता है।

तीसरा शेयर है आईडीबीआई बैंक का। इसे हमने सबसे पहले 7 जून को 111.90 रुपए पर खरीदने की सलाह दी थी। कल तक यह 193.70 रुपए की नई ऊंचाई पर पहुंच चुका है। इसका ईपीएस 13 रुपए है और यह अब भी 14 के पी/ई अनुपात पर ट्रेड हो रहा है। इसकी बुक वैल्यू 122 रुपए है। यानी बाजार में इसके शेयर का भाव बुक वैल्यू से केवल 1.6 गुना है। इसमें हाल-फिलहाल का लक्ष्य 225 रुपए का है। लेकिन इसे खरीदकर अगले तीन सालों के लिए अपने पोर्टफोलियो में शामिल कर लेना चाहिए। दो से तीन सालों में यह 500 से 600 रुपए तक जा सकता है।

अंत में एक बार फिर आप सभी सुधी पाठकों व निवेशकों को दीपावली की शुभकामनाएं। आपका नव वर्ष मंगलमय हो…

या देवि सर्वभूतेषु लक्ष्मीरूपेण संस्थिता, नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमोनमः।।

  2 Responses to “ऊँ महालक्ष्मये च विदमहे विष्णु…”

Comments (2)
  1. यूनिकोड में देवनागरी के शायद तमाम अक्षर और चिह्न शामिल हैं। ॐ का यूनिकोड मान है U+0950। इनस्क्रिप्ट कीबोर्ड लेआउट में इसे कंट्रोल+आल्ट+शिफ्ट+x या फिर दाईं-आल्ट+शिफ्ट+x से टाइप कर सकते हैं, दोनों प्रकार के इनस्क्रिप्ट में।

  2. धन्यवाद। आजमा कर देखा। ॐ लिखना आ गया। पहले पता नहीं था। एक बार फिर शुक्रिया। कमाल है इतने काम की जानकारी देते हैं और नाम कैसा रख रखा है फालतू!!!

 Leave a Reply

(required)

(required)