निफ्टी की दशा-दिशा [गुरुवार, 18 अप्रैल 2019] शुरुआती रुख⬆ सुबह: 8.10 बजे

पिछला बंद मंगल का उच्चतम मंगल का न्यूनतम मंगल का बंद संभावित दायरा
11690.35 11810.95 11731.55 11787.15 11745/11835

 

Mar 072013
 
अंदर नहीं, बाहर से

(more…)

Jan 282013
 
पीर पराई

(more…)

Jan 192013
 
खुशी की पात्रता

  (more…)

Jan 082013
 
असली पुरुषार्थ

  (more…)

Dec 152012
 
उलझनों की काट

(more…)

Nov 092012
 
कल्याण कैसे?

(more…)

Sep 012012
 

बाहर से सब कुछ भरा-पूरा, अंदर से परेशान। सदियों पहले एक राजकुमार इसी उलझन को सुलझाने निकला तो बुद्ध बन गया। नया दर्शन चल पड़ा। सदियों बाद लाखों लोग सब कुछ होते हुए भी वैसे ही बेचैन हैं। लेकिन कोई बुद्ध नहीं बनता। आखिर क्यों? (more…)

Aug 262012
 

पहले दुनिया सिमटी हुई थी। इर्दगिर्द खास कुछ नहीं बदलता था तो लोग सुबह-सुबह नहा-धोकर एकाध घंटे पूजापाठ करते थे। अपने अंदर झांकते थे। अब दुनिया बढ़ते-बढ़ते ग्लोबल हो गई है तो एकाध घंटे अखबारों के जरिए बाहर झांकना जरूरी हो गया है। (more…)

Feb 052012
 

अंदर की प्रकृति को बाहर की प्रकृति से मिला देना, प्रकृति के साथ एकाकार हो जाना ही लक्ष्य है। सत्ता और समाज अपने-आप में साध्य नहीं, बल्कि साधन हैं प्रकृति की विपुल संपदा में अपना हिस्सा पाने के। (more…)