निफ्टी की दशा-दिशा [गुरुवार, 18 अप्रैल 2019] शुरुआती रुख⬆ सुबह: 8.10 बजे

पिछला बंद मंगल का उच्चतम मंगल का न्यूनतम मंगल का बंद संभावित दायरा
11690.35 11810.95 11731.55 11787.15 11745/11835

 

चुनाव बाद जब सुधरेगा माहौल!

 Posted by at 10:10  Comments Off on चुनाव बाद जब सुधरेगा माहौल!
Apr 142019
 
चुनाव बाद जब सुधरेगा माहौल!

सारा देश चुनावों के राग में डूबा हुआ है। हर तरफ राजनीति का शोर। लेकिन ज़मीनी हकीकत यह है कि अभी तक हमारी अर्थव्यवस्था राजनीति की परवाह किए बिना बढ़ती रही है और उसी से जुड़ा है हमारा शेयर बाज़ार। हालांकि इधर चुनाव नतीजों की अनिश्चितता के बीच बाज़ार में छोटी कंपनियों के शेयर ज्यादा […]

गली-गली में फैली उद्यमशीलता

 Posted by at 07:05  Comments Off on गली-गली में फैली उद्यमशीलता
Apr 072019
 
गली-गली में फैली उद्यमशीलता

भारत में उद्यमशीलता की कोई कमी नहीं। हमारे नगरों-महानगरों की छोटी-छोटी गलियों में आपको इसकी झलक मिल जाती है। न जाने कितने चरणों में अपना माल बनवाकर छोटी कंपनियां बडे ग्राहकों तक पहुंचाती हैं। यही छोटी कंपनियां एक दिन बड़ी बन जाती हैं तो उनके मूल्य का कोई ठिकाना नहीं रहता। हम आज तथास्तु में […]

मेल पारदर्शिता व अच्छी कमाई का

 Posted by at 06:45  Comments Off on मेल पारदर्शिता व अच्छी कमाई का
Mar 312019
 
मेल पारदर्शिता व अच्छी कमाई का

सेवा के लिए बनी राजनीति आज देश में जबरदस्त मुनाफा कमानेवाला धंधा बन गई है। लेकिन क्या इस क्षेत्र में कंपनियां बनाकर लिस्ट करवा दी जाए तो उनका मूल्यांकन बहुत ज्यादा होगा? नहीं, क्योंकि राजनीति के धंधे में पारदर्शिता नहीं है और जहां पारदर्शिता नहीं है, वहां मूल्यांकन नहीं हो सकता। हालांकि इससे इतर तमाम […]

यहां धुरंधर भी नहीं बचते घाटे से!

 Posted by at 07:15  Comments Off on यहां धुरंधर भी नहीं बचते घाटे से!
Mar 242019
 
यहां धुरंधर भी नहीं बचते घाटे से!

अगर आप शेयर बाज़ार में यह सोचकर निवेश कर रहे हैं कि बराबर हर साल मुनाफा कमाते रहेंगे तो यह भ्रम फौरन मन से निकाल दीजिए। हकीकत यह है कि यहां बड़े से बड़े दिग्गज़ निवेशकों को भी घाटा खाना पड़ता है। बीते साल 2018 में अपने यहां जिस तरह मिडकैप व स्मॉल-कैप शेयरों की […]

शेयर बाज़ार है धनकुबेरों का अड्डा!

 Posted by at 13:17  Comments Off on शेयर बाज़ार है धनकुबेरों का अड्डा!
Mar 172019
 
शेयर बाज़ार है धनकुबेरों का अड्डा!

शेयर बाज़ार में निवेश करना बहुत रिस्की है। फिर भी देश में लगभग 4.14 करोड़ लोग फिलहाल यह रिस्क उठा रहे हैं। साथ ही म्यूचुअल फंड में निवेश करनेवालों के खातों की संख्या 8.91 करोड़ पर पहुंच चुकी है। ज़रूरी नहीं कि इन सबके पास ज़रूरत से ऊपर इफरात धन हो। हालांकि शेयर बाज़ार मूलतः […]

वक्त है आपके धैर्य की परीक्षा का!

 Posted by at 05:35  Comments Off on वक्त है आपके धैर्य की परीक्षा का!
Mar 102019
 
वक्त है आपके धैर्य की परीक्षा का!

इधर कुछ दिनों से स्मॉल और मिडकैप कंपनियों के शेयरों में जान आ गई लगती है। लेकिन पिछले 13 महीनों में बीएसई स्मॉल-कैप सूचकांक लगभग 35% और मिडकैप सूचकांक 25% लुढ़क चुका है। इस दौरान अच्छी-खासी कंपनियों के शेयरों ने आम निवेशकों को रुला डाला। लेकिन कंपनी अगर अच्छी है तो पछताने के बजाय उसमें […]

लंबा निवेश जब मांगे लंबा इंतज़ार!

 Posted by at 16:53  Comments Off on लंबा निवेश जब मांगे लंबा इंतज़ार!
Mar 032019
 
लंबा निवेश जब मांगे लंबा इंतज़ार!

लंबे निवेश के लिए कभी-कभी लंबा इंतज़ार करना पड़ता है क्योंकि कंपनी लाख अच्छी व संभावनामय हो, लेकिन उसमें सुरक्षित मार्जिन का ध्यान न रखा और महंगे भाव पर निवेश कर दिया तो अच्छा रिटर्न मिलना बहुत मुश्किल हो जाता है। इसलिए हमें कंपनी के शेयर के गिरकर सुरक्षित दायरे में आने का इंतज़ार करना […]

मूल्य मिटाती कंपनियों से सावधान!

 Posted by at 13:48  Comments Off on मूल्य मिटाती कंपनियों से सावधान!
Feb 242019
 

कुछ कंपनियां निवेशकों की दुश्मन होती हैं। ताम-झाम दिखाकर या ऑपरेटरों का जाल फैलाकर निवेशकों से धन झटकती हैं। फिर प्रवर्तक तो मौज करते हैं, जबकि कंपनियां सारा मूल्य चट कर जाती हैं। हमारे पुराने पाठक सीएनआई रिसर्च की सुझाई सूर्यचक्र पावर को लेकर ज़रूर ऐसे सदमे में होंगे। लेकिन कुछ कंपनियां अपने शेयरधारकों का […]

लंबा निवेश कला है और विज्ञान भी

 Posted by at 13:55  Comments Off on लंबा निवेश कला है और विज्ञान भी
Feb 172019
 
लंबा निवेश कला है और विज्ञान भी

इस समय 400 से ज्यादा स्मॉल-कैप कंपनियों के शेयर 52 हफ्तों की तलहटी पकड़ चुके हैं। इसमें बहुत-सी अच्छी व मजबूत कंपनियां हैं। आठ साल पहले 2011 में भी ऐसी ही स्थिति आई थी। लेकिन उनके शेयर तेज़ी से उठे थे। इस बार भी देर-सबेर ऐसा होना है क्योंकि लंबे समय में शेयरों के भाव […]

छोटों को दुत्कार, बड़ों को पुचकार!

 Posted by at 17:09  Comments Off on छोटों को दुत्कार, बड़ों को पुचकार!
Feb 102019
 
छोटों को दुत्कार, बड़ों को पुचकार!

अमीर का अमीर और गरीब का गरीब होते जाना समाज के लिए अच्छा नहीं। लेकिन अपने यहां शेयर बाज़ार तक में यही हो रहा है। 1 जनवरी 2018 से 8 फरवरी 2019 तक बीएसई सेंसेक्स 8.08% बढ़ा है, जबकि मिडकैप सूचकांक 18.52% और स्मॉलकैप सूचकांक 28.53% गिरा है। बड़ों को पुचकारना और छोटों को दुत्कारना […]