निफ्टी की दशा-दिशा [सोमवार 21 मई 2018] शुरुआती रुख⬆ सुबह: 8.05 बजे

पिछला बंद शुक्र का उच्चतम शुक्र का न्यूनतम शुक्र का बंद संभावित दायरा
10682.70 10674.95 10589.10 10596.40 10565/10655

 

रुपया चला रसातल, डर है सत्तर का

 Posted by at 08:18  Comments Off on रुपया चला रसातल, डर है सत्तर का
May 212018
 

रुपया कमज़ोर पड़ता जा रहा है। डॉलर के मुकाबले रुपया 68 के नीचे जा चुका है। जानकार कहते हैं कि जिस तरह विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक लगातार भारत से डॉलर निकाल रहे हैं और रिजर्व बैंक के तमाम उपाय जिसे नहीं रोक पा रहे, उसमें रुपया जल्दी ही 70 तक पहुंच जाए तो कोई आश्चर्य नहीं। […]

विदेश निवेशक बराबर खींच रहे हाथ

 Posted by at 08:21  Comments Off on विदेश निवेशक बराबर खींच रहे हाथ
May 182018
 

विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक भारत में शुद्ध रूप से मुनाफा कमाने आए हैं, अर्थव्यवस्था या शेयर बाज़ार को चमकाने के लिए नहीं। देश-विदेश की मौजूदा हालात को देखते हुए उन्होंने चालू वित्त वर्ष 2018-19 के अप्रैल माह में हमारे शेयर बाज़ार व बांडों से 15,561.48 करोड़ रुपए निकाले थे। उसके बाद कल 17 मई तक वे […]

शेयर चढ़े, पर पस्त हैं छोटी कंपनियां

 Posted by at 08:17  Comments Off on शेयर चढ़े, पर पस्त हैं छोटी कंपनियां
May 172018
 

बड़ी कंपनियों ने धंधा किसी तरह संभाल लिया है। पर, छोटी कंपनियों की हालत खस्ता बनी हुई है। पिछले वित्त वर्ष 2016-17 में बीएसई स्मॉलकैप सूचकांक में शामिल कंपनियों का औसत इक्विटी पर रिटर्न मात्र 3% रहा था। इससे पिछले दो सालों में भी यह क्रमशः 2% और 3% रहा था। 2017-18 का हाल शायद […]

देखते जाएं कंपनियों के तिमाही संदेश

 Posted by at 08:19  Comments Off on देखते जाएं कंपनियों के तिमाही संदेश
May 162018
 

कंपनियों के चौथी तिमाही के नतीजों का दौर चल रहा है। कल व परसों हिंदुस्तान यूनिलीवर, बॉम्बे डाइंग, एब्बट इंडिया, ल्यूपिन, पंजाब नेशनल बैंक, ब्रिटानिया, आर कॉम व सिंडीकेट बैंक के नतीजे आए तो आज से लेकर शुक्र तक हिंडाल्को, टाटा स्टील, आईटीसी, वोल्टाज़, जे के टायर, अशोक लेलैंड, बजाज ऑटो, डालमिया भारत व डेन […]

बैंक करने लगे हैं त्राहिमाम-त्राहिमाम

 Posted by at 08:19  Comments Off on बैंक करने लगे हैं त्राहिमाम-त्राहिमाम
May 152018
 

बीते हफ्ते केनरा बैंक, इलाहाबाद बैंक, यूको बैंक और देना बैंक के नतीजों से पता चला कि इन चार सरकारी बैकों को मार्च तिमाही में 11,729 करोड़ रुपए का सम्मिलित घाटा लगा है। यही नहीं, बढ़ते एनपीए के चलते इस दौरान निजी क्षेत्र के आईसीआईसीआई बैंक का शुद्ध लाभ 45% घट गया, जबकि एक्सिस बैंक […]

अंदर हाल-बेहाल, बुलबुला बना बाज़ार

 Posted by at 08:17  Comments Off on अंदर हाल-बेहाल, बुलबुला बना बाज़ार
May 142018
 

शेयर बाजार मूलतः देश की औद्योगिक प्रगति का आईना है। लेकिन अपने यहां संस्थाओं व अमीरतम लोगों की मोटी रकम आने से बाज़ार कमज़ोर होती औद्योगिक स्थिति के बावजूद फूलकर कुप्पा हुआ पड़ा है। ताज़ा आंकड़ा आया है कि मार्च में औद्योगिक उत्पादन सूचकांक की वृद्धि दर घटकर 4.4% रह गई है, जबकि उससे पहले […]

डेरिवेटिव में रतजगा कराने की तैयारी

 Posted by at 08:17  Comments Off on डेरिवेटिव में रतजगा कराने की तैयारी
May 112018
 

पहली अक्टूबर से हमारे प्रतिभूति बाज़ार में बड़े परिवर्तन होने जा रहे हैं। स्टॉक एक्सचेंजों को शेयरों के साथ ही कमोडिटी डेरिवेटिव में ट्रेडिंग की इजाजत दी जा चुकी है। इसके अलावा इक्विटी डेरिवेटिव की ट्रेडिंग का समय सुबह 9 बजे से शाम 3.30 बजे से बढ़ाकर मध्यरात्रि 11.55 बजे तक कर दिया गया है। […]

स्मार्ट निवेशक हमेशा मारते हैं बाज़ी

 Posted by at 08:15  Comments Off on स्मार्ट निवेशक हमेशा मारते हैं बाज़ी
May 102018
 

डाउ सिद्धांत का नया रूप यह है कि शेयर बाज़ार में मार्क-अप, डिस्ट्रीब्यूशन और मार्क-डाउन के तीन दौर होते हैं। मार्क-अप में सबसे पहले समझदार निवेशक व कंपनियों के अंदर के लोग एंट्री लेते हैं। इसके बाद बैंक, वित्तीय संस्थाएं व प्रोफेशनल ट्रेडर घुसते हैं। म्यूचुअल फंड सबसे अंत में आते हैं। डिस्ट्रीब्यूशन के दौर […]

डाउ सिद्धांत के तीन दौर हैं बड़े खास

 Posted by at 08:20  Comments Off on डाउ सिद्धांत के तीन दौर हैं बड़े खास
May 092018
 

वॉल स्ट्रीट जनरल के पहले संपादक और डाउ जोन्स एंड कंपनी के संस्थापक थे चार्ल्स एच. डाउ। करीब सौ साल पहले उनके लिखे अनेक संपादकीय के आधार पर डाउ सिद्धांत निकाला गया। इसके मुताबिक शेयर बाज़ार में तीन प्रमुख दौर चलते हैं। एकट्ठा करने का दौर, व्यापक लोगों की भागादारी का दौर और बेचकर मुनाफा […]

रिटेल ट्रेडरों से बाज़ार पर न पड़े फर्क

 Posted by at 08:18  Comments Off on रिटेल ट्रेडरों से बाज़ार पर न पड़े फर्क
May 082018
 

यूं तो शेयर बाज़ार की ट्रेडिंग में वोल्यूम का बहुत ज्यादा महत्व नहीं होता। वैसे भी इसके आंकड़े इतना गड्डम-गड्ड होते हैं कि इससे कोई साफ तस्वीर नहीं उभरती। इसलिए इसके चक्कर में नहीं पड़ना चाहिए। लेकिन इसका भान ज़रूर होना चाहिए कि बाज़ार में इतने करोड़ों का कारोबार कौन लोग खड़ा करते हैं। आम […]